एक तरफ जहां देश भर में बीफ खाने के आरोप में एक के बाद एक मुस्लिम परिवारों पर जानलेवा हमले हो रहे हैं, वहीं इस मामले पर राजनीति करने वाली भारतीय जनता पार्टी(बीजेपी) के एक नेता के ही गौशाला में भूख की वजह से सैकड़ों गायों की मरने की खबर आ रही है। जी हां, यह मामला छत्तीसगढ़ के दुर्ग जिले की एक गौशाला की है, जहां चारों तरफ मरी हुई गायें पड़ी दिखाई दे रही हैं।

दुर्ग जिले के धमधा ब्लॉक के राजपुर गांव में स्थिति बीजेपी नेता के इस गौशाला पिछले तीन दिनों में भूख से करीब 200 से अधिक गायों के मरने की आशंका है। यह मामला प्रशासन के सामने उस समय आया जब स्थानीय ग्रामीणों ने गायों की मौत की जानकारी दी।

इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक, गौशाला प्रबंधन समिति के अध्यक्ष और जामुल नगर पालिका के उपाध्यक्ष हरीश वर्मा चलाते हैं, जो बीजेपी के नेता हैं। रिपोर्ट के अनुसार, धामदा ब्लॉक के सब-डिविजनल मजिस्ट्रेट राजेश पात्रे बीजेपी नेता हरीश वर्मा की गौशाला में पहुंचे, जहां पर उन्होंने गायो की मौत की पुष्टि की।

अखबार के मुताबिक, बीजेपी नेता की इस गौशाला में पिछले तीन दिन के अंदर अच्छी देखभाल न होने और भुखमरी के कारण अब तक 200 से अधिक गायों की मौत हो चुकी है। एक्सप्रेस के अनुसार राजेश पात्रे ने कहा कि पशुपालन के डिप्टी डायरेक्टर के नेतृत्व में चार सदस्यों की एक टीम का गठन किया गया है, जो कि गायों का पोस्टमार्टम कराकर उनकी मौत के पीछे के कारणों का पता लगाएगी।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, गौशाला के कर्मचारियों द्वारा इन मौतों की घटना को छुपाने के लिए मृत गायों को आनन-फानन में दफना दिया गया। इस गौशाला के बाहर लगे गेट पर कमल का फूल यानि बीजेपी का चुनाव चिन्ह बना हुआ है। गाय की सुरक्षा का ढिंढोरा पिटने वाली बीजेपी के ही एक नेता की गौशाला में इतनी बड़ी संख्या में एक साथ गायों की मौत के बाद विपक्ष हमलावर है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here