डोकलाम में जारी विवाद के बीच चीन ने एक बार फिर भारत को गीदड़ भभकी दी है। दोनों देशों के बीच करीब दो महीनों से भी ज्यादा वक्त से जारी गतिरोध के बीच चीन ने मंगलवार(22 अगस्त) को कहा कि अगर उसके सैनिक भारत में घुसे तो ‘भयंकर अव्यवस्था’ फैल जाएगी।

न्यूज एजेंसी IANS के मुताबिक, चीन के विदेश मंत्रालय ने कहा कि भारत का यह तर्क ‘हास्यास्पद और विद्वेषपूर्ण’ है कि डोकलाम में सीमा पर चीन द्वारा सड़क बनाने से नई दिल्ली को खतरा है। चीनी विदेश मंत्रालय ने कहा कि चीन किसी भी देश या व्यक्ति को अपनी सीमाई संप्रभुता के उल्लंघन की इजाजत नहीं देगा।

 

इसके साथ ही उन्होंने संकेत दिया कि इस प्रथा पर रोक के लिए दंड प्रावधान मौजूद हैं। केंद्र सभी राज्यों को एक परामर्श भेज कर उन्हें उच्चतम न्यायालय के आदेश का पालन सुनिश्चित करने को कहेगा। गृह मंत्रालय के एक प्रवक्ता ने कहा कि मंत्रालय राज्य सरकारों को उचित कार्रवाई करने और उच्चतम न्यायालय के आदेश का अनुपालन सुनिश्चित करने को कहेगी।

चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता हुआ चनयिंग ने कहा कि ‘भारतीय पक्ष ने चीन द्वारा रोड बनाने को बहाना बनाकर गैरकानूनी तरीके से सीमा को पार किया है। यह वजह हास्यास्पद और विद्वेषपूर्ण है।’ उन्होंने कहा कि ‘आप इसके बारे में सोच सकते हैं। अगर हम भारत के इस हास्यास्पद तर्क को सहन करते हैं तो कोई भी जिसे अपने पड़ोसी के काम पसंद न हो तो वह अपने पड़ोसी के घर में घुस जाएगा।

चीन ने कहा कि भारत सीमा पर बड़े पैमाने पर बुनियादी ढांचे को विकास कर रहा है जो चीन के लिए खतरा है। तो क्या चीन को भारतीय क्षेत्र में घुस जाना चाहिए? अगर ऐसा होगा तो बहुत अव्यवस्था फैल जाएगी।’ बता दें कि भारत और चीन के सैनिक सिक्किम सेक्टर में भूटान-चीन सीमा पर स्थित डोकलाम में जून से ही आमने-सामने हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here