पाटीदार अमानत संघर्ष समिति (पास) नेता हार्दिक पटेल ने बुधवार को मीडिया से बातचीत करते हुए कहा है कि उनकी आरक्षण को मांगों को कांग्रेस ने मान लिया है। सत्‍ता में आते ही आरक्षण पर कांग्रेस प्रस्‍ताव लाएगी। इसके साथ ही कहा कि कुछ वर्गों को जरूरत से ज्‍यादा आरक्षण दिया गया है।
ऐसे में सर्वे करने के बाद जिन लोगों को आरक्षण की जरूरत है, केवल उनको ही ये मिले। हमारी मांगें गुजरात के हित में हैं।
इसके साथ ही बीजेपी पर आरोप लगाते हुए कहा कि वह हमारे उम्‍मीदवारों को खरीदने की कोशिश कर रही है। उसने 200 करोड़ रुपये खर्चकर निर्दलीय उम्‍मीदवारों को मैदान में उतारा है।हमारी बीजेपी के खिलाफ कोई लड़ाई नहीं है लेकिन उसके खिलाफ लड़ाई लड़नी जरूरी है। पास में फूट के बारे में बोलते हुए कहा कि उनके संगठन में कोई विवाद जैसी बात नहीं है।
हार्दिक पटेल ने कहा कि न तो मैं कांग्रेस में हूँ और ना ही अगले ढाई साल तक किसी पार्टी में जाने वाला हूं। हालांकि हार्दिक पटेल ने कांग्रेस को खुले तौर पर समर्थन की बात नहीं की लेकिन बीजेपी के खिलाफ मुखर लड़ाई की बात कही। कांग्रेस के बारे में बोलते हुए हार्दिक पटेल ने कहा कि हमने उसके साथ कोई सौदेबाजी नहीं की है।
 इसके साथ ही कांग्रेस-पास के बीच आरक्षण फॉर्मूले पर बोलते हुए कहा कि सेक्‍शन 31 और सेक्‍शन 46 के प्रावधानों के तहत पाटीदारों को आरक्षण देने पर कांग्रेस सहमत हो गई है।हार्दिक ने कहा कि कांग्रेस जब सत्‍ता में आएगी तो इस आशय का बिल लाएगी।
हार्दिक पटेल ने कहा कि हमने कभी लोगों से कांग्रेस को समर्थन देने को नहीं कहा, लेकिन वे हमारे हितों की बात कह रहे हैं तो यह तय करने का काम हम जनता पर छोड़ते हैं। कांग्रेस अपने घोषणापत्र में विस्‍तार से इस फॉर्मूले को पेश करेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here