अयोध्या विवाद सुलझाने की कोशिश में जुटे आर्ट ऑफ लिविंग के संस्‍थापक और आध्यात्मिक गुरु श्री श्री रविशंकर आज आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत से मुलाकात करेंगे।
श्री श्री रविशंकर ने कहा है कि राम मंदिर मुद्दे को सुलझाने के लिए आशा की किरण दिख रही है। उन्‍होंने शुक्रवार शाम एक सवाल के जवाब में कहा था, ‘आशा की किरण दिख रही है।बहुत अच्छा माहौल बनता जा रहा है’।
इससे पहले शुक्रवार को अयोध्या मुद्दे पर बातचीत और परस्पर सहमति के जरिए समाधान खोजने के प्रयास में आर्ट ऑफ लिविंग के संस्थापक श्री श्री रविशंकर ने लखनऊ में मुस्लिम धार्मिक नेताओं से बातचीत की थी। उन्होंने बातचीत में कहा था कि ‘बातचीत के जरिए हम हर समस्या हल कर सकते हैं।
रविशंकर अयोध्या में भी विभिन्न धार्मिक नेताओं से मिले थे। सवालों के जवाब में उन्होंने कहा कि देश से जुडे़ सभी मुद्दों पर बातचीत की जरुरत है।भाईचारे और पुरानी संस्कृति को आगे बढ़ाने की जरुरत है।
इधर सीएम योगी आदित्‍यनाथ ने अयोध्‍या विवाद के मसले पर बड़ा बयान देते हुए कहा है कि अब इस मसले पर बातचीत का कोई मतलब नजर नहीं आ रहा क्‍योंकि बहुत देर हो गई है। 5 दिसंबर को सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई शुरू होने वाली है।सीएम योगी का बयान ऐसे वक्‍त आया है जब गुरुवार को ही श्री श्री रविशंकर मध्‍यस्‍थता की पेशकश के साथ अयोध्‍या पहुंचे हैं और सभी पक्षकारों के साथ मुलाकात कर रहे हैं।
इससे पहले आध्‍यात्मिक गुरु श्री श्री रविशंकर ने बुधवार को कहा था कि मध्यस्थता करने वाले कोई प्रस्ताव लेकर नहीं जाते हैं और अभी सभी पक्षों से खुले दिल से बातचीत हो रही है. उन्‍होंने कहा कि “अयोध्या में वे सभी साधु-संतों से मिलेंगे”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here